Trending

प्रेगनेंसी में पेट दर्द, कमर दर्द, पीठ दर्द के कारण और उपाय

गर्भावस्था के दौरान एक आम समस्या होती है पेट दर्द और कमर दर्द तथा पीठ दर्द. प्रेगनेंसी के दौरान लगभग सभी गर्भवती महिलाओं को कमर दर्द, पेट दर्द और पीठ दर्द से सामना करना पड़ता है. हालांकि यह समस्या सामान्यत प्रेगनेंसी में सबको होती है लेकिन जब दर्द ज्यादा हो जाए तो डॉक्टर से संपर्क जरूर करें. चिकित्सकीय सलाह के बिना कोई भी दर्द निवारक गोलियां या टेबलेट नहीं लेवे तथा चिकित्सक को अपनी समस्या बता कर सुनिश्चित कर लेवे की कोई असामान्य समस्या तो नहीं है.
प्रेगनेंसी में पेट दर्द, प्रेगनेंसी में कमर दर्द व पीठ दर्द, प्रेगनेंसी में नाभि के नीचे दर्द, प्रेगनेंसी में पीरियड जैसा दर्द, pregnancy me pet dard ke Karan, प्रेगनेंसी में कमर दर्द के घरेलू उपाय

गर्भावस्था में पेट दर्द
Abdominal pain during pregnancy in Hindi

गर्भावस्था में पहला महीने में पेट दर्द या पहले तिमाही में पेट दर्द होना आम बात है. क्योंकि इस समय गर्भवती स्त्री के शरीर में बहुत परिवर्तन होते हैं. गर्भवती महिला के शरीर में शिशु के बढ़ने के साथ-साथ गर्भाशय का बढ़ना आदि परिवर्तन की वजह से पेट दर्द होने लगता है.

गर्भवती महिला के गैस बनने पर क्या करें?
प्रेगनेंसी बढ़ने के साथ-साथ महिला को एसिडिटी या गैस की समस्या भी शुरू हो जाती है, इस वजह से गर्भवती महिला को जी मिचलाने के साथ पेट दर्द की समस्या का सामना करना पड़ता है. गर्भवती महिला को गैस बनने पर तली भुनी चीजों का त्याग कर देना चाहिए और कार्बोहाइड्रेट्स युक्त चीजों का कम सेवन करना चाहिए. प्रेगनेंसी के दौरान गर्भवती को ढीले कपड़े ही पहनना चाहिए. दिन भर में थोड़ी थोड़ी मात्रा में खाना लेना चाहिए एक साथ ज्यादा भोजन नहीं खाना चाहिए.

प्रेगनेंसी में पेट के निचले हिस्से में दर्द का कारण क्या है?
प्रेगनेंसी में नाभि के नीचे दर्द क्यों होता है?

गर्भावस्था के दौरान गर्भवती महिला कि पेट के निचले हिस्से या नाभि के नीचे दर्द होना तथा जलन व खुजली होना आम बात है क्योंकि इस समय गर्भाशय बढ़ रहा होता है और नाभि तथा स्तन के बीच में बढ़ना शुरू हो जाता है, जिससे नाभि पर जोर पड़ना शुरू हो जाता है. इस वजह से प्रेगनेंसी में पेट के निचले हिस्से यानी नाभि के नीचे दर्द होना शुरू हो जाता है.

प्रेगनेंसी में पेट का टाइट होने के कारण
Causes of stomach tightening during pregnancy

गर्भावस्था के कारण गर्भाशय में होने वाले परिवर्तन की वजह से प्रेगनेंसी में पेट का टाइट महसूस होना एक आम बात है. गर्भवती महिला को पेट का टाइट महसूस होना होने का मुख्य कारण गर्भाशय का बढ़ना जिसकी वजह से पेट की मांसपेशियों में खिंचाव आता है. इसके अलावा गर्भवती के शरीर के वजन का बढ़ना, गैस का बनना तथा अंतिम तिमाही में होने वाले संकुचन की वजह से भी पेट टाइट महसूस होता है. हालाकि यह कुछ समय के लिए ही होता है लेकिन यदि आपको लंबे समय तक पेट टाइट लगे या खिंचाव महसूस हो तो डॉक्टर से जरूर सलाह लेवे.

प्रेगनेंसी में पीरियड जैसा दर्द होना क्या है?
प्रेगनेंसी के शुरुआत में गर्भवती महिला को पीरियड जैसा पेट में हल्का दर्द या एंठन महसूस हो सकता है, जो सामान्यतः पहली तिमाही में रहता है जोकि सामान्य बात है.प्रेगनेंसी के दौरान शरीर में होने वाले हार्मोन परिवर्तन की वजह से गैस, कब्ज आदि की समस्या रहती है जिससे पेट में एंठन महसूस होती है जिससे पीरियड जैसा दर्द होने लगता है. यह दर्द सामान्यत प्रथम तिमाही में ही महसूस होता है.

प्रेगनेंसी में पेट दर्द करे तो क्या करें?
प्रेगनेंसी के दौरान पेट दर्द होने पर निम्नलिखित बातों को अपनी दैनिक दिनचर्या में शामिल करें.
  • प्रेगनेंसी के दौरान भोजन एक साथ खाने के बजाय दिन भर में छोटे-छोटे पार्ट चार या पांच बार में थोड़ा-थोड़ा खाना खाए.
  • गर्भवती महिला को प्रेगनेंसी के दौरान चाय कॉफी का सेवन नहीं करना चाहिए या बहुत ही सीमित मात्रा में करना चाहिए.
  • गर्म पानी से नहाने से भी पेट दर्द तथा बदन दर्द में आराम मिलता है.
  • प्रेगनेंसी के दौरान दिनभर में पर्याप्त पानी पिए तथा तरल पदार्थों का सेवन करते रहें.
  • गर्भवती स्त्री को प्रेग्नेंसी के अवधिनुसार विभिन्न एक्सरसाइज भी करनी चाहिए.

गर्भावस्था में पीठ दर्द और कमर दर्द 
Back pain and Waist pain during pregnancy in Hindi

प्रेगनेंसी के दौरान गर्भवती स्त्री के शरीर में काफी शारीरिक व हार्मोनल परिवर्तन होते हैं, जिसकी वजह से गर्भावस्था में पीठ दर्द के कमर दर्द होना आम समस्या है. गर्भावस्था के दौरान यदि आपका वजन बहुत ज्यादा है अथवा आप पहले से गर्भवती हो चुकी हैं तो आप के कमर दर्द व पेट दर्द होने चांसेज ज्यादा रहते हैं. प्रेगनेंसी के के शुरुआत में यह समस्या ज्यादा रहती हैं, कुछ महिला को प्रेगनेंसी बढ़ने के साथ पेट दर्द और कमर दर्द में आराम मिलना शुरू हो जाता है.

प्रेगनेंसी में कमर दर्द के लिए घरेलू उपाय
  • अपने आहार में उच्च फाइबर युक्त सब्जियों को शामिल करें.
  • हरी पत्तेदार सब्जियों, फल तथा साबुत अनाज को अपनी डेली प्रेगनेंसी डाइट में शामिल करें.
  • लहसुन का उचित सेवन भी कमर दर्द से छुटकारा पाने में सहायक है.
  • दूध दही आदि कैल्शियम युक्त चीजों का सेवन करें.
  • ओमेगा 3 से भरपूर खाने की चीजों का सेवन करना चाहिए यह कमर दर्द और पेट दर्द में राम दिलाने में सहायक है.
  • प्रेगनेंसी के दौरान बताई गई विभिन्न एक्सरसाइज से भी कमर दर्द व पेट दर्द में आराम मिलता है.
8 तरीके से घर पर ही करें प्रेगनेंसी टेस्ट pregnancy test at home in Hindi 

Post a Comment

Please do not enter any spam link in the comment box

Previous Post Next Post