Trending

प्रेग्नेंट महिला के प्रेगनेंसी डाइट में यह मिनरल्स होना जरूरी है

आपके गर्भावस्था के आहार यानी प्रेगनेशी डाइट मे विभ्भिन मिनरलस का उपयुक्त और सही मात्रा मे होना बहुत जरूरी है. गर्भावस्था के आहार या प्रेगनेशी डाइट मे विभिन्न मिनरल्स की पर्याप्त उपलब्धता होना बहुत जरूरी है. जब भी गर्भवती महिला के आहार संबंधी बात आए तो यह जरूर ध्यान में रखे की उसके प्रेगनेंसी डाइट में उपयुक्त मिनरल्स सही मात्रा में हो.
Pregnant mahila ki pregnancy diet tips, garbhavastha mein aahar bhojan Khan Pan golden tips, pregnancy mein kya khayen kya nahin khayen, garbhvati mahila ko bhojan sambandhi mahatvapuran sujhav
गर्भावस्था मे आहार मे यह मिनरलस होना जरूरी.
गर्भवती महिला को अपने आहार में कौनसा मिनरल्स, कितनी मात्रा में लेना हैं, इसकी जानकारी निम्नलिखित हैं.
1- पानी
गर्भवती महिलाओ को अपनी प्रेगनेंसी डाइट के साथ प्रतिदिन कम से कम 3 से 4 लीटर पानी जरुर पीना चाहिए. पानी की उपयुक्त मात्रा प्रेगनेंसी के दौरान थकान मिटाने तथा खुन कि शुद्धता हेतु आवश्यक है. पानी ही प्रेगनेशी डाइट का मुल आधार है. यह हमेशा ध्यान रखे की, आप जो पानी काम में ले रहे हो वो शुद्ध व स्वच्छ हो.
प्रेगनेंसी में केसर का सेवन कब और कैसे करना चाहिए.

2- फोलिक एसिड
जो महिला गर्भवती है या वो गर्भधारण करने कि तैयारी कर रही तो उसे अपने आहार मे फोलिक एसिड लेना शुरु कर देना चाहिए. गर्भावस्था के पहली तिमाही की प्रेगनेंसी डाइट मे प्रतिदिन 4 मिलीग्राम और दूसरी व तीसरी तिमाही की प्रेगनेशी डाइट मे 6 मिलीग्राम फोलिक एसिड लेना बहुत जरूरी है. फोलिक एसिड को अपने गर्भावस्था के आहार मे शामिल करने से शिशु के जन्मदोष और गर्भपात का खतरा कम हो जाता है.
फोलिक एसिड युक्त प्रेगनेंसी डाइट मे दाल, राजमा, पालक, मटर, मक्का, भिंड़ी, सोयाबीन, काबुली चना, स्ट्रॉबेरी, केला, संतरा, दलीया, आदि का विभिन्न रूप में सेवन करना चाहिए.

3- प्रोटीन 
गर्भवती स्त्री को गर्भावस्था के आहार मे रोजाना कम से कम 60 से 75gm प्रोटीन जरूर लेना चाहिए. प्रेग्नेंसी डाइट मे प्रोटीन की उपयुक्त मात्रा गर्भवती महिला तथा शिशु के विकास और वृद्धि के लिये बेहद जरूरी है. प्रोटीन युक्त आहार मे दूध और इससे बनने वाले आहार, मूंगफली, पनीर, काजू, बदाम, दलहन,अंडे आदि को मुख्यत शामिल कर सकते हैं.

4- कैल्शियम 
गर्भवती महिला और उसके गर्भस्थ शिशु की स्वस्थ और मजबूत हड्डियों के लिये गर्भवती महिला कि प्रेगनेशी डाइट मे प्रतिदिन 1500 -1600 मिलीग्राम कैल्शियम का होना बहुत जरूरी है.
कैल्शियम युक्त प्रेगनेशी डाइट में दूध और इससे बनी चिजे और दलहन, मेथी, अंगूर, तिल, उड़द, बाजऱा, आदि को शामिल किया जाता है.

5- विटामिन 
प्रेगनेंसी के दौरान भोजन में पर्याप्त मात्रा मे विटामिन का होना बहुत जरूरी है. याद रखें की प्रेगनेशी डाइट हमेशा ऐसी होना चाहिए, जो प्रेग्नेंट महिला की विटामिन कि जरुरत कि पूरी कर सके.
विटामिन युक्त गर्भावस्था के आहार मे हरी सब्जियां, दलहन, दूध आदि को शामिल किया जाता है.

6- जिंक
गर्भवती महिलाओ को गर्भावस्था के आहार मे प्रतिदिन 10 से 20 mg जिंक कि मात्रा होनी बहुत आवश्यक हैं. गर्भवती महिला में जिंक की कमी से भूख नही लगना, त्वचा संबंधी और अन्य रोग हो सकते है. जी हां प्रेगनेन्सी में भूख नहीं लगना, इसका कारण जिंक की कमी हो सकती है. जिंक युक्त गर्भावस्था के आहार मे हरी सब्जिया और फल आदि ले सकते है.

7- आयोडीन
गर्भवती महिलाओ को आहार मे प्रतिदिन 200 से 220 माइक्रोग्राम आयोडीन लेना होता है. आयोडीन को प्रेगनेशी डाइट मे शामिल करना इसलिए भी जरूरी होता है, क्योंकी यह शिशु के दिमाग के विकास के लिये बहुत आवश्यक है. आयोडीन की कमी से बच्चे मे मानसिक रोग, वजन बढ़ना और महिलाओ मे गर्भपात जैसी समस्या उत्पन्न हो सकती है. आयोडीन युक्त प्रेगनेंसी डाइट मे अनाज, दालें, दुध, अंड़े आदी आते है.

प्रेगनेंसी में क्या खाएं क्या नहीं खाएं?
प्रेगनेंसी के दौरान आहार या भोजन मे कुछ सामान्य बातो का ध्यान रखना गर्भवती महिला के लिये बहुत जरूरी है. प्रेग्नेंट महिला अपनी प्रेगनेशी डाइट मे क्या खाए क्या नहीं खाएं, इसकी जानकारी आपको इस पोस्ट में देंगे. आपको यहां दिए गए गोल्डन प्रेगनेशी डाइट टिप्स नार्मल लग सकते है, लेकिन यह आपकी गर्भावस्था की समस्या को कम करने में मदद करेंगे.
गर्भावस्था में भोजन से संबंधित महत्वपूर्ण सुझाव
भोजन और फल से भी गर्भपात हो सकता है
गर्भावस्था मे आहार संबधी महत्वपुर्ण सुझाव.
Important tips for pregnancy diet in Hindi.
प्रेग्नेंट महिला को अपने गर्भावस्था के आहार या प्रेगनेशी डाइट संबंधी निम्नलिखित बातों का हमेशा ध्यान रखना चाहिए-
1- गर्भवती महिला को एक साथ ज्यादा भोजन करने की जगह हर 3-4 घंटे में थोड़ा थोड़ा उपयुक्त आहार लेने की कोशिश करनी चाहिए.
2- गर्भावस्था के दौरान वजन बढ़ने कि चिंता नहीं करते हुए अच्छी प्रेगनेशी डाइट लेनी चाहिए.
3- गर्भवती महिला को हमेशा ध्यान रखना चाहिए की कच्चे दूध को अपनी प्रेगनेशी डाइट मे कभी भी शामिल नही करे. दुध को हमेशा गर्म करके, फिर ठंडा करके ही पिये.
4- प्रेग्नेंट महिलाओं को शराब व धूम्रपान का सेवन कभी नहीं करना चाहिए.
5- गर्भवती के डाइट में कॉफी को कम मात्रा मे शामिल करना चाहिए. प्रेगनेंसी के दौरान कॉफी का अधिक सेवन गर्भपात या मिसकैरेज के खतरे को बढ़ाता है.
6- प्रेगनेन्सी डाइट मे गर्म मसालेदार चीजो का प्रयोग नहीं करना चाहिए.
7- गर्भवती महिला को गर्भावस्था के दौरान कभी भी उपवास नहीं करना चाहिए.
8- अपनी प्रेगनेंसी डाइट में फास्ट फुड, ज्यादा तला हुआ भोजन और मसालेदार चीजों का सेवन नहीं करना चाहिए.

Post a Comment

Please do not enter any spam link in the comment box

Previous Post Next Post