Trending

गर्भावस्था में भोजन से संबंधित महत्वपूर्ण सुझाव pregnancy diet tips in Hindi

गर्भावस्था में खानपान व भोजन का ध्यान रखना बहुत जरूरी है, क्योंकि भोजन से मिलने वाले विभिन्न मिनरल्स से गर्भवती महिला तथा उसके गर्भ में पल रहे बच्चे का स्वास्थ्य निर्भर करता है. इसलिए प्रेग्नेंट महिलाओं को अपनी प्रेगनेंसी डाइट का विशेष ध्यान रखना चाहिए. गर्भवती स्त्री के खानपान से संबंधित कुछ पोस्ट पहले भी इस वेबसाइट पर लिखी गई है तथा आगे भी इस विषय से संबंधित कुछ जरूरी पोस्ट्स और भी लिखेंगे. आप हमारी पिछली प्रेगनेंसी डाइट संबधी पोस्ट्स को जरूर पढ़ें जिससे आप गर्भावस्था मे भोजन से संबंधित महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त कर सकते हैं.
गर्भवती स्त्री का खान-पान, Pregnant woman's diet in Hindi, Pregnancy diet in Hindi language, Garbhawastha me khanpan, garbhvati stri ka bhojan.
गर्भावस्था में भोजन (प्रेगनेंसी डाइट) हेतु महत्वपूर्ण सुझाव
Pregnant women's diet tips in Hindi

प्रेग्नेंट महिलाओं के गर्भावस्था के दौरान भोजन संबंधी महत्वपूर्ण सुझाव निम्नलिखित है-
1- प्रेग्नेंसी डाइट में फाइबर युक्त भोजन काफी मायने रखता है. गर्भावस्था के दौरान अलग अलग किस्म की सब्ज़ी को अपने भोजन का हिस्सा बनाए. इसके अलावा विभिन्न फलों को भी अपनी प्रेगनेंसी डाइट में जरूर शामिल करें. गाजर, केला, खरबूज , पका हुआ साग इत्यादि खाना गर्भवती महिला के लिए अत्यंत फायदेमन्द होता है.

2- गर्भावस्था के दौरान प्रेग्नेंट महिला हमेशा नाश्ता करना न भूलें और प्रयास करें की अच्छे तरीके से पका हुआ सामान ही अपने नाश्ते में शामिल करें, इसके साथ ही कुछ फल भी नाश्ते में जरूर लेवे. अगर गर्भवती महिला को कमज़ोरी महसूस होती हो तो सुबह सुबह अंकुरित अनाज को भी अपनी गर्भावस्था के भोजन में शामिल करें.
प्रेगनेंसी में केसर का सेवन कब और कैसे करना चाहिए.

3- प्रेग्नेंसी के दौरान अक्सर प्रेग्नेंट महिला को खून की कमी हो जाती है, ऐसे में प्रेग्नेंसी के दौरान आयरन युक्त भोजन लेना चाहिए जिससे की खून में आयरन की ज़रूरी मात्रा बनी रहे. फॉलिक एसिड को भी गर्भावस्था के दौरान निर्धारित खुराक में लेना चाहिए , यह बच्चे के जन्म के बाद होने वाली विभिन्न समस्याओं से बचाता है. इसके साथ ही प्रेगनेंसी डाइट में विटामिन भी उपयुक्त मात्रा में शामिल करे.

4- यदि आप खाने में मछली का सेवन करते हैं तो अपनी प्रेगनेंसी डाइट में उस मछली को शामिल नहीं करें , जिसमें अधिक मात्रा में मरकरी पाई जाती है .ज्यादा मात्रा में मरकरी का सेवन करना मिसकैरेज या गर्भपात का कारण बनता है.

5- प्रेग्नेंसी डाइट में चीज़ और मीट खाने से बचना चाहिए. इनमे कुछ बैक्टेरिया पाए जाते हैं, जिससे इनका सेवन गर्भावस्था के दौरान करना खतरनाक हो सकता है।
नॉर्मल डिलीवरी के घरेलू उपाय

गर्भावस्था में भोजन से संबधित महत्वपूर्ण पोस्ट्स
इस विषय से संबंधित कुछ महत्वपूर्ण पोस्ट हमने पहले भी लिखी है जिनकी जानकारी हम नीचे दे रहे हैं. इन पोस्ट को पढ़कर आप प्रेगनेंसी डाइट से संबंधित महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त कर सकते हैं.

Post a Comment

Please do not enter any spam link in the comment box

Previous Post Next Post