Trending

गलती से प्रेग्नेंट हो जाए तो क्या करें और क्या नहीं

कई बार ऐसा होता है की आप किसी कारण या परिस्थितिवश प्रेग्नेंट नहीं होना चाहती है तथा संबंध बनाते समय यही मन में रहता है की कहीं गर्भ नहीं ठहर जाए. लेकिन फिर भी गलती से प्रेग्नेंट हो जाए तो क्या करें और क्या नहीं तो आपको इस समय तुरंत फैसला लेना होता है. यदि आप बच्चा नहीं चाहती है तो आपके सामने एक ही रास्ता बचता है की अबॉर्शन करवाए तथा इस हेतु गर्भावस्था का शुरुआती समय ही सबसे उपयुक्त होता है. लेकिन इस हेतु आपको कुछ मेडिकल परमिशन तथा विषेषज्ञ की सलाह की जरूरत पड़ती है. इसलिए आज की पोस्ट में हम आपको बताएंगे की पत्नी या गर्लफ्रेंड गलती से प्रेग्नेंट हो जाए तो क्या करें और कौनसा कदम उठाना आपके लिए फायदेमंद रहेगा. साथ ही गर्भपात के विभिन्न आयुर्वेदिक और मेडिकल तरीकों के बारे में जानकारी प्रदान करेंगे.
गर्भपात के आयुर्वेदिक उपाय, गर्भपात की गोली दवा

गलती से प्रेग्नेंट हो जाए तो क्या करें
अनचाही प्रेग्नेंसी हमेशा ही मुसीबत लेके आती है चाहे वो विवाहित जीवन में हो या अविवाहित जिंदगी में हो तथा इस समय होने वाला तनाव प्रेग्नेंट महिला के स्वास्थ्य के लिए भी समस्या उत्पन करता है. इसलिए आज हम आपको इस समस्या से निजात दिलाने हेतु कुछ सलाह देंगे जिससे आपको इससे उबरने में आसानी होगी. यदि आप गलती से प्रेग्नेंट हो जाए तो क्या करें तो निम्नलिखित कदम उठाए-
  • प्रेगनेंसी टेस्ट करें
    कई बार मासिक धर्म में देरी या अन्य कारण से प्रेग्नेंट होने का सिर्फ डर ही रहता है जबकि ऐसा होता नहीं है इसलिए सबसे पहले कन्फर्म होने हेतु प्रेगनेंसी टेस्ट करें. यदि आप बच्चा नहीं चाहती है तो प्रेगनेंसी टेस्ट के घरेलू उपाय का उपयोग नहीं करे क्योंकि आपको अगला कदम उठाने हेतु तुरंत पता करना है की आप गर्भवती हैं या नहीं. इस हेतु आपको मेडिकल स्टोर पर उपलब्ध प्रेगनेंसी टेस्ट एट होम किट का प्रयोग करके पता लगाना है की आप प्रेग्नेंट हो गई है. यदि प्रेगनेंसी टेस्ट किट रिजल्ट्स पॉजिटिव आता है तो इसका मतलब है की आप गलती से प्रेग्नेंट हो तो गई है और अब आपको अगला कदम उठाना पड़ेगा.
  • सही फैसला लेवें
    जब आपको प्रेगनेंसी टेस्ट किट रिजल्ट्स से यह पता चल गया है की आप गर्भवती हैं तो अब आपको तुरंत यह फैसला लेना है की बच्चे को जन्म देना है या अबॉर्शन करवाना है. क्योंकि यदि गर्भपात करवाना है तो प्रेगनेंसी का शुरुआती समय ही इस हेतु सबसे सुरक्षित और सरल होता हैं. कुछ समय बीतने के बाद गर्भपात हेतु आपको गंभीर प्रक्रिया से गुजरना पड़ सकता है इसलिय इस हेतु त्वरित निर्णय ले की आगे आपको करना क्या है.
  • तनाव को नियंत्रित रखे
    जब आपको और पार्टनर को पता चलता है की आप गलती से प्रेग्नेंट हो गई है तो आपस में एक दूसरे को दोष देकर तनाव को बढ़ाएं नहीं तथा इस स्थिति से उबरने हेतु उपयुक्त प्लानिंग करे. तनाव को बिलकुल भी अपने ऊपर हावी न होने दे तथा शांत रहते हुए कोई फैसला लेवें. यदि आप गर्लफ्रेंड बॉयफ्रेंड के रिश्ते में है तो आपको दुनिया से छुपकर भी कदम उठाना पड़ेगा जबकि पति पत्नी के रिश्ते में ज्यादा परेशानी का सामना नहीं करना पड़ता है.
  • सामाजिक स्थिति को ध्यान में रखें
    यदि विवाहित जीवन में अनचाही प्रेगनेंसी हो जाए तो यह सवाल सामाजिक रूप से ज्यादा मायने नहीं रखता है की लोग क्या कहेंगे. लेकिन यदि गर्लफ्रेंड गलती से प्रेग्नेंट हो जाए तो क्या करें सवाल की अहमियत ज्यादा होती है क्योंकि विवाह से पहले बच्चा होना सामाजिक रूप से स्वीकार्य नहीं होता है. बहुत ही रेयर केस में लड़कियां बिना विवाह के बच्चे को जन्म देती है इसलिए इस स्थिति को भी ध्यान में रखकर कोई फैसला करें.
  • दोस्तो और रिश्तेदारों से सलाह
    जब आप दोनो पति पत्नी या गर्लफ्रेंड बॉयफ्रेंड आपस में कोई फैसला नहीं ले सके या किसी एक बात पर एकमत नहीं हो सके तो आप अपने नजदीकी रिश्तेदार या दोस्तो की सलाह लेकर उपयुक्त निर्णय पर पहुंच सकते हैं. जिन रिश्तेदार या दोस्तो पर आपको विश्वास है, उनको अपनी स्थिति से अवगत करवाएं तथा उचित सलाह मशविरा करके एक निश्चित निर्णय पर पहुंचे.
  • डॉक्टर तथा विशेषज्ञ से सलाह
    जब आप उपरलिखित प्रक्रिया से गुजरते हुए किसी एक बात पर एकमत हो जाते है तो इसके बाद आपको सीधे किसी अच्छे डाक्टर तथा विशेषज्ञ से सम्पर्क करे. यदि आप प्रेगनेंसी कन्टिन्यू रखना चाहते हैं यानी बच्चे को जन्म देना चाहते हैं तो भी आपको डॉक्टर से परामर्श लेना है तथा पूरी गर्भावस्था के दौरान डॉक्टर के संपर्क में रहना है. और यदि आपको गर्भपात यानी अबॉर्शन करवाना है तो भी डॉक्टर की सलाह लेनी है तथा वो आपके शारीरिक स्थिति तथा प्रेगनेंसी के आधार पर इस उपयुक्त ट्रीटमेंट प्रदान करेंगे. इसलिए किसी भी स्थिति में आपको डॉक्टर से जरूर सलाह लेनी चाहिए.
गलती से प्रेग्नेंट हो जाए तो क्या करें जब प्रेगनेंसी कन्टिन्यू रखना हो
इस लेख के शुरुआत से अब तक दिए गए पॉइंट्स के आधार पर जब आप इस निष्कर्ष पर पहुंचते हैं की आप गलती से प्रेग्नेंट तो हो गए लेकिन अब आप प्रेगनेंसी कन्टिन्यू रखना चाहते हैं यानी बच्चे को जन्म देना चाहते हैं तो आपको किसी डॉक्टर या स्त्री रोग विशेषज्ञ से परामर्श लेना शुरू कर देना चाहिए तथा पूरी गर्भावस्था के दौरान उनके संपर्क में ही रहना चाहिए. डॉक्टर आप की शारीरिक स्थिति तथा गर्भावस्था की स्थिति के आधार पर विभिन्न मिनरल्स की पूर्ति हेतु तथा आसान डिलीवरी हेतु विभिन्न प्रकार की दवाइयां तथा ट्रीटमेंट देंगे तथा समय-समय पर गर्भ में पल रहे शिशु की स्थिति की जांच करते रहेंगे जिससे शिशु का पूर्ण रूप से विकास हो सके तथा नार्मल डिलीवरी हो सके. इस प्रकार गलती से प्रेग्नेंट होने के बाद यदि आप प्रेगनेंसी कन्टिन्यू रखना चाहते हैं तो पूरी गर्भावस्था के दौरान डॉक्टर से परामर्श लेते रहे.

गलती से प्रेग्नेंट हो जाए तो क्या करें जब गर्भपात करना हो
यदि आप अनचाही प्रेगनेंसी के बाद गर्भपात करना चाहते हैं यानी आपके मन मे यह जिज्ञासा है की गलती से प्रेग्नेंट हो जाए तो क्या करें जब अबॉर्शन करना हो तो इसके लिए आपके पास दो रास्ते है जिनकी विस्तार से जानकारी देंगे. इस तरह अब आपने यह फैसला किया है की आप इस अनचाही प्रेगनेंसी को कन्टिन्यू नही रखना चाहते हैं तथा गर्भपात यानी अबॉर्शन करना चाहते हैं तो इसके दो मुख्य तरीके निम्नलिखित है-
  • गर्भपात के आयुर्वेदिक उपाय
    गर्भपात करने के कुछ घरेलू आयुर्वेदिक उपाय भी होते हैं जो पुराने जमाने से चलते आ रहे हैं लेकिन डॉक्टर इस तरीके से गर्भपात करने की सलाह नहीं देते हैं तथा न ही कोई वैज्ञानिक शोध में यह पाया गया है कि इस तरीके से गर्भपात करना सुरक्षित है या सफल है. फिर भी गर्भपात के आयुर्वेदिक उपाय सदियों से उपयोग में आते रहे हैं. जब आपको यह चिंता होने लग जाए की गलती से प्रेग्नेंट हो जाए तो क्या करें तथा ऐसी परिस्थिति हो जाए की आप किसी से सलाह भी नही लेनी चाहती है और न ही मेडिकल या डॉक्टर के पास जा सकती है तो इन गर्भपात के आयुर्वेदिक उपाय को अपनाकर देख सकती है. इन घरेलू नुस्खे के तहत आप इलायची से गर्भपात, कच्चा पपीता खाने से गर्भपात, मेथी से गर्भपात, तुलसी के पत्ते से गर्भपात तथा जायफल से गर्भपात कर सकते है लेकिन जैसा की हमने बताया है की इनका कोई वैज्ञानिक आधार नहीं है तथा यह नुकसानदायक भी हो सकता है इसलिए किसी आयुर्वेदिक डॉक्टर या विशेषज्ञ से सलाह लेकर ही इस तरीके से गर्भपात करना चाहिए, वो आपको यह भी जानकारी देंगे की गर्भपात के लिए तुलसी का काढ़ा कैसे बनाये तथा इसे किस तरीके से प्रयोग कर सकते है. इस बारे में विस्तार से जानकारी हेतु आप हमारे लेख गर्भपात के घरेलू आयुर्वेदिक उपाय और उपचार को पढ़ सकते हैं.
  • गर्भपात की गोली और दवा
    जैसा की इस लेख में हमने पहले बताया कि गर्भपात के घरेलू तरीके का उपयोग करना रिस्की है तथा इनका कोई वैज्ञानिक आधार नहीं है. इसलिए आप इस हेतु गर्भपात की गोली और दवा का प्रयोग कर सकते है. किसी महिला प्रेग्नेंट होने के 7 से 12 सप्ताह तक मेडिकल अबॉर्शन यानी गर्भपात की गोली से अबॉर्शन हो सकता है. यह गोली या दवा आप सीधे मेडिकल स्टोर से खरीद नहीं सकते हैं क्योंकि यह दवा या गोली सिर्फ डॉक्टर की लिखी पर्ची के आधार पर उपलब्ध होती है. इस बारे में विस्तार से जानकारी हेतु आप हमारे लेख गर्भपात की गोली दवा (Abortion pill in Hindi) से प्राप्त कर सकते है जहां पर इस बारे में संपूर्ण जानकारी बिंदुवाइज समझाई गई है.
इस प्रकार आप अनचाही प्रेगनेंसी यानी गलती से प्रेग्नेंट होने पर यदि गर्भावस्था के शुरुआत में ही अबॉर्शन करवाना चाहते हैं तो आप घरेलू आयुर्वेदिक उपाय से अथवा मेडिकल अबॉर्शन द्वारा गर्भपात करवा सकते है लेकिन यदि तीन महीने से ज्यादा की प्रेगनेंसी होने पर आपको अस्पताल में जाकर सर्जिकल अबॉर्शन ही करवाना पड़ेगा.

यह भी पढे-इस तरह आज के लेख में आपने जाना की पत्नी या गर्लफ्रेंड गलती से प्रेग्नेंट हो जाए तो क्या करें तथा इस समय कौनसा फैसला लेना सही रहेगा. यदि आप अबॉर्शन करवाना चाहते हैं तो गर्भपात के आयुर्वेदिक उपाय तथा गर्भपात की गोली और दवा के बारे में जानकारी दी गई है तथा विस्तार से जानकारी हेतु उपयुक्त संदर्भ भी बताया गया है.
और नया पुराने