Trending

फार्मी देसी अंडा खाने के फायदे नुकसान

यदि आप अंडा खाने या नहीं खाने के बारे में कन्फ्यूजन में हो तो आज आपको विस्तार से जानकारी प्राप्त होगी की फार्मी देसी अंडा खाने के फायदे नुकसान क्या है. हम सब जानते है की अंडा में प्रोटीन और विटामिन भरपूर मात्रा में पाया जाता है. अंडे को प्रोटीन का राजा कहा जाता है. प्रोटीन के अलावा अंडे में कई ऐसे पौषक तत्व भी पाए जाते हैं जो स्वस्थ शरीर हेतु अत्यंत आवश्यक होते हैं. यह तो आपको पता है की अंडे में पोषक तत्वों से भरपूर होते हैं और शरीर के लिए फायदेमंद भी हैं, लेकिन इसका मतलब यह नहीं आप इसका सेवन जरूरत से ज्यादा करें. आज इसी बारे मे चर्चा करेंगे की फार्मी और देसी अंडा खाने के नुकसान और फायदे क्या है तथा दमा और मधुमेह में अंडा खाना चाहिए या नहीं.
अंडा खाने के फायदे, देसी अंडा खाने के फायदे, अंडा दूध के फायदे, अंडा खाने से नुकसान

अंडा खाने के फायदे
सबसे पहले हम फार्मी और देसी अंडा खाने के फायदे के बारे में बात करते हैं. अंडा खाने के अनेक फायदे हैं, जो निम्नलिखित है.
  • यह तो आप सब जानते है की अंडा प्रोटीन के सबसे अच्छे स्त्रोत में से एक है. अंडे में एल्ब्यूमिन नामक प्रोटीन की भरपूर मात्रा पाई जाती है. रोजाना अंडा खाने से आपके शरीर के लिए आवश्यक प्रोटीन की मात्रा की पूर्ति हो जाती है.
  • अंडा पोषक तत्वों से भरपूर होता है. इसमें उच्च गुणवत्ता वाले प्रोटीन के साथ ही लाभदायक 9 अमीनो एसिड और सल्फर व अन्य खनिज-विटामिन होते हैं.
  • रोजाना सुबह एक अंडा खाना आपके स्वस्थ आंखो हेतु बहुत फायदेमंद है. डेली एक अंडा खाने से आवश्यक कैरोटिनायड्स की जरूरत पूरी होती है जो आंखों की कोशिकाओं को क्षरण से बचाता है और स्वस्थ रखता है. अंडा के आवश्यक मात्रा में सेवन से मोतियाबिंद की समस्या की संभावना भी नही रहती हैं.
  • विशेषज्ञो के अनुसार स्तन कैंसर की समस्या के समाधान हेतु भी अंडा लाभदायक है. रोजाना सुबह एक अंडा खाने का फायदे यह है की इससे स्तन कैंसर की संभावना का खतरा 50 फीसदी कम हो जाता है.
  • फार्मी या देसी अंडा खाने के फायदे यह है की इससे आपके शरीर के लिए जरूरी वसा की मात्रा की पूर्ति हो जाती है तथा यह फैट की मात्रा को नियंत्रित भी रखता है.
  • अंडा एक एनर्जी बूस्टर का काम करता है. रोजाना एक अंडे का सेवन करने से आप पूरे दिन आलस से दूर रहेंगे तथा तरोताजा महसूस करेंगे. अंडे का पीला भाग वसा से भरपूर होता है जो पूरे दिन आपके शरीर को ऊर्जा प्रदान करता.
  • अंडे के सेवन से हड्डियां मजबूत होती है क्योंकि इसमें भरपूर मात्रा में विटामिन 'डी' होता है. इसके अलावा विटामिन ए, बी12 ,रिबाफ्लेविन, फास्‍फोरस आदि पौषक तत्त्व पाए जाते हैं.
  • उबला हुआ अंडा बायोटिन का बेहतरीन स्रोत होता है जो फैट और शुगर मेटाबॉलिज्म को बैलेंस रखता है. रोजाना कम से कम एक अंडे का सेवन तो जरूर करना चाहिए.
  • अंडा को केओलीन का बढ़िया स्रोत माना जाता है जिससे यह रक्तवाहिनियों और हार्ट को स्वस्थ रखता है और हार्ट अटैक की संभावना को घटाता है.
  • अंडे के सफेद भाग का सेवन करने से हाई ब्लड प्रेशर में फायदा होता है लेकिन ध्यान रखे कि हाई ब्लड प्रेशर के मरीज को अंडे का पीला भाग नहीं खाना चाहिए.

उबला हुआ अंडा खाने के फायदे
कई लोग अंडा पकाकर या उबाल कर खाते हैं तथा कुछ इसका सेवन कच्चा ही करते हैं. हमारे एक पाठक का सवाल प्राप्त हुआ की उबला हुआ अंडा खाने से क्या फायदा है? तो उबले हुए अंडे के अनेक फायदे हैं जो निम्नलिखित हैं.
  • उबला हुआ अंडा खाने के फायदे में प्रमुख हैं की यह आसानी से पच जाता है.
  • कच्चे अंडे में जहां 51 फीसदी प्रोटीन होता है वहीं पके हुए और उबले अंडे में 91 फीसदी प्रोटीन होता है क्योंकि तापमान में बदलाव के कारण प्रोटीन में संरचनात्मक बदलाव हो जाता है.
  • कच्चे अंडे मे के अंदर प्रोटीन विभिन हिस्सों में विभाजित होता है लेकिन अंडे को पकाने से सारे प्रोटीन आपस में मिल जाते हैं तथा इसे पचाना भी आसान होता है.
  • कच्चे अंडे के अंदर एविडिन नामक प्रोटीन होता है जो बायोटिन नही बनने देता हैं लेकिन इसके उबलने से एविडिन बदल जाता है तथा बायोटिन जैसे पौषक तत्त्व का निर्माण होता है जो फैट और शुगर मेटाबॉलिज्म को बैलेंस रखता है.
अंडा खाने से नुकसान
आपके मन में भी यह जिज्ञासा हुई होगी की अंडा खाने से नुकसान क्या होता है? तो आज आपको इस बारे में जानकारी देंगे की फार्मी देसी और कच्चा अंडा खाने से क्या नुकसान होता है.
  • यदि किसी को अंडे से एलर्जिक रिएक्शन होता है तो उन्हे अंडा खाने से नुकसान पहुंच सकता है. इसलिए ऐसे लोगो को एलर्जी से बचने हेतु अंडे का सेवन करने से बचना चाहिए.
  • अंडे के ज्यादा सेवन से पेट संबंधी समस्याएं उत्पन हो जाती है तथा सेहत को नुकसान हो सकता है. इसलिए इसका सेवन सीमित मात्रा में ही किया जाना चाहिए.
  • डायबिटीज और हाई ब्लड प्रेशर के मरीजों को अंडे के पीले भाग का सेवन नहीं करना चाहिए. इन मरीजों के लिए पीले भाग वाले अंडा खाने से नुकसान हो सकता है.
  • अंडे के पीले भाग में कोलेस्ट्रोल की काफी मात्रा होती हैं जो हार्ट के मरीजों के लिए नुकसानदायक है.
  • अंडे को कच्चा खाने पर शरीर में बायोटिन की कमी हो जाती हैं जिससे बाल झड़ने की समस्या, स्किन समस्या, मांसपेशियों में दर्द तथा ऐंठन आदि समस्या हो सकती है लेकिन अंडे को पकाकर सेवन करने से बायोटिन की कमी नहीं होती है.
1 दिन में कितना अंडा खाना चाहिए?
सामान्य दिनचर्या में एक स्वस्थ व्यक्ति रोजाना एक अंडा यानी एक सप्ताह के अंदर सात अंडों का सेवन कर सकता है. वही जिम और खेलकूद वाले रोजाना तीन अंडो का सेवन सामान्य परिस्थितियों में कर सकते हैं. रोज दो अंडे खाने से उपयुक्त मात्रा में प्रोटिन तथा अन्य पौषक तत्त्व तो शरीर को मिलते हैं लेकिन फिर भी यह आपके शारीरिक आवश्यकता पर निर्भर करता है की रोजाना 1 दिन में कितना अंडा खाना चाहिए?

क्या अंडा खाने से गैस बनती है?
अत्यधिक अंडा खाने से गैस बन सकती हैं क्योंकि इनकी तासीर गर्म होती है तथा अंडे के पीले भाग में वसा की मात्रा ज्यादा होती है.

अंडे खाने के बाद क्या नहीं खाना चाहिए?
अंडा खाने के बाद मछली, पनीर, केला, नींबू, खुरमा, चाय, चीनी आदि नहीं खाना चाहिए. अंडे खाने के बाद इन 10 चीजों को नहीं खाना चाहिए.
अंडा कितनी देर उबालना चाहिए?
अंडे को पूरा पकने तक यानी लगभग उच्च आंच पर पांच से सात मिनट तक उबालना चहिए.

अंडे के सफेद भाग में क्या होता है?
अंडे के सफेद भाग में प्रोटीन विटामिन, तथा मिनरल्स भरपूर मात्रा में होता हैं. इसके अलावा जो पोटेशियम भी होता है जो ब्लड तथा हार्ट से जुड़ी समस्याओं को कम करता है.

यह भी पढ़े-
अंडा शाकाहारी या मांसाहारी हैं । अंडा कैसे बनता है
अंडा करी बनाने की विधि । अंडा करी रेसिपी बताइए

तो आज आपने जाना की कच्चे और उबले फार्मी देसी अंडा खाने के फायदे नुकसान क्या है तथा अंडा किस तरह खाना चाहिए और कितनी मात्रा में खा सकते हैं. आज की जानकारी के बारे में आपके विचारो से हमें जरूर अवगत करवाएं.

Post a Comment

Please do not enter any spam link in the comment box

Previous Post Next Post