एक हफ्ते, महीने, दिन, रात में कितनी बार संबंध बनाना चाहिए

यह हमेशा एक जटिल विषय रहा है की पीरियड, गर्भपात, एबॉर्शन, प्रेगनेंट होने के लिए कितने दिन बाद संबंध बनाना चाहिए तथा एक दिन, महीने, रात और एक हफ्ते में कितनी बार संबंध बनाना चाहिए. आज हम इस विषय पर जानेंगे की इस बारे में विशेषज्ञ क्या राय रखते हैं. यह इस बात पर भी निर्भर करता हैं की आप लिविंग कपल्स है या विवाहित है या आपकी उम्र कितनी है.

लेकिन सवाल यह है की आखिर एक महीने या हफ्ते में कितनी बार संबंध बनाना चाहिए तो इस बारे में विभिन्न शोधपत्र के आधार पर यह निष्कर्ष निकलता है की जो स्त्री पुरुष सप्ताह में न्यूनतम एक बार संबंध बनाते हैं वो इससे कम संबंध बनाने वाले कपल्स की तुलना में ज्यादा खुश और स्वस्थ महसूस करते हैं. लेकिन फिर भी विशेषज्ञों का कहना है कि कपल्स को एक दिन, हफ्ते, रात, महीने में कितनी बार संबंध बनाना चाहिए यह उनकी आपसी तालमेल और समय, मूड आदि पर निर्भर करता है.

महीने में कितनी बार शारीरिक संबंध बनाना चाहिए, एक दिन में कितनी बार संबंध बनाना चाहिए, एक रात में कितनी बार संबंध बनाना चाहिए
{tocify} $title={Table of Contents}

एक हफ्ते में कितनी बार संबंध बनाना चाहिए

जैसा की शुरुआत में आपको बताया है की यह उम्र, मूड, आपसी तालमेल आदि पर निर्भर करता हैं की एक हफ्ते में कितनी बार संबंध बनाना चाहिए और कब बनाना चाहिए. लेकिन फिर भी माना जाता हैं की एक सप्ताह में एक बार संबंध बनाना ही चाहिए लेकिन यह एक औसतन आंकड़ा है. 40 वर्ष के ऊपर की उम्र के कपल्स के लिए सप्ताह में एक बार तथा 20 वर्ष से 30 वर्ष के उम्र हेतु सप्ताह में दो बार संबंध बनाना सामान्य होता हैं.

लेकिन एक प्रसिद्ध मनोवैज्ञानिक तथा कई अन्य विशेषज्ञों के अनुसार किसी भी कपल्स को एक सप्ताह, महीने, दिन, रात में संबंध बनाते समय इन औसत पर ध्यान नहीं देना चाहिए. कई स्त्री पुरुष ऐसे होते हैं जो महीने में ही दो तीन बार ही संबंध बनाते हैं तो कुछ कपल्स ऐसे भी हैं जो सप्ताह में सात से ज्यादा बार भी संबंध स्थापित करते हैं इसलिए इन आंकड़ों के चक्कर में नहीं पड़ते हुए आपको जितनी बार ठीक लगे, संबंध बना सकते हैं.

महीने में कितनी बार शारीरिक संबंध बनाना चाहिए

जैसा की अब तक आपने जाना की इस हेतु कोई भी औसत आंकड़ा काम नही करता हैं बल्कि यह सब इस बात पर निर्भर करता हैं की स्त्री पुरुष की उम्र क्या है तथा उनमें आपसी तालमेल कितना है और साथ ही सही समय और मूड होना भी इसके लिए जिम्मेदार होता हैं. फिर भी एक महीने में कम से कम चार से पांच बार शारीरिक संबंध बनाना चाहिए और यदि इससे कम बार यह होता हैं तो इसका मतलब है की आपको इस बारे में गंभीरता से विचार करना चाहिए.

एक दिन रात में कितनी बार संबंध बनाना चाहिए

एक सप्ताह, महीने या दिन रात में उतनी बार ही संबंध बनाना चाहिए जिससे आप सामान्य महसूस करे तथा जितनी बार आप और आपके साथी दोनों को अच्छा और सही लगता है. क्योंकि इसे आप योजनाबद्ध तरीके से करने की जगह अपनी स्वयं की इच्छा के आधार पर करेंगे तो आप एक दिन या रात में एक बार भी संबंध बना सकते हैं या इससे अधिक बार या दो तीन दिन में एक बार भी संबंध बना सकते हैं.

नियमित संबंध बनाने के फायदे

निश्चित अंतराल और नियमित रूप से संबंध बनाने के कई शारीरिक और मनोवैज्ञानिक फायदे होते हैं. इससे अच्छी नींद आती हैं तथा अनिंद्रा की समस्या से छुटकारा मिलता है. इसके अलावा नियमित संबंध बनाने से हृदय संबंधी समस्याओं में सहायता मिलती हैं क्योंकि एक अध्ययन के अनुसार सक्रिय यौन जीवन जीने वाले पुरुषों में हृदय रोग विकसित होने की संभावना काफी कम हो जाती है.

नियमित संबंध बनाने के मनोवैज्ञानिक फायदे यह है की इससे कपल्स के बीच घनिष्ठता की भावना उत्पन होती हैं तथा आपसी तालमेल और समझ बढ़ती हैं. इस प्रकार नियमित दिनो मे संबंध बनाना चाहिए जिससे शारीरिक और मानसिक रूप से लाभ मिलता हैं.

निष्कर्ष

ज्यादा या कम संबंध बनाने का अर्थ यह नहीं है की कपल्स के बीच ज्यादा तालमेल है या ज्यादा तालमेल का अभाव है. इसलिए इन आंकड़ों पर भरोसा नहीं करते हुए आपसी ट्यूनिंग और समझ के अनुसार ही शारीरिक संबंध बनाना चाहिए. इसलिए एक हफ्ते, महीने, दिन, रात में कितनी बार संबंध बनाना चाहिए का जवाब यह है की यह प्रत्येक व्यक्ति के लिए अलग अलग हो सकता है तथा इसके लिए उम्र, शारीरिक स्थिति, मानसिक स्थिति, आपसी तालमेल, तात्कालिक मूड आदि जिम्मेदार होते हैं.

और नया पुराने